आधार कार्ड और पीओएस मशीन से ही खाद खरीदे किसान – डॉ. सैनी

0
312

कनवास (कोटा)
सरकार ने भारत की स्वतन्त्रता के 75वें वर्ष को आज़ादी का अमृत महोत्सव के स्मरणोत्सव के रूप में मनाने का निर्णय लिया है। इसके तहत क्षेत्र में कई तरह के कृषि समारोहों और अभियानों का आयोजन किया जा रहा है। इसी उद्देश्य को ध्यान रखते हुए चम्बल फर्टिलाईजर्स एण्ड़ केमिकल्स लिमिटेड के कृषि विकास प्रयोगशाला, गढ़ेपान  द्वारा, कनवास तहसील के माधोपुर और मांदिल्याहेड़ी गांवों में दिनांक 05 अक्टूबर, 2021 को कृषक संगोष्ठी और मृदा परीक्षण दिवस का आयोजन किया गया। इन कार्यक्रमों में सैकड़ो किसानो ने भाग लेकर खेती की नवीनतम तकनीकों और आधार के माध्यम से पीओएस मशीन से उर्वरक खरीदने की जानकारी ली।  
चम्बल फर्टिलाईजर्स एण्ड़ केमिकल्स लिमिटेड के कृषि विशेषज्ञ डॉ. जगमोहन सैनी ने किसानो को बताया की अब किसानो को उर्वरक बिना प्वाइंट आफ सेल (पीओएस) मशीन के नहीं मिलेगा। उर्वरक खरीदते समय किसानो को अपना आधार कार्ड लेकर जाना होगा और उर्वरक पीओएस मशीन के माध्यम से खरीदने की सलाह दी। किसानो को बिना पीओएस मशीन के रासायनिक उर्वरक नहीं खरीदने की सलाह दी। सभी उर्वरक दुकानों पर पीओएस मशीन लगी हुई हैं और अंगूठा लगाकर पोश मशीन से खाद मिलेगी। 
डॉ. सैनी ने कृषि में हो रहे नवाचारों के बारे में किसानों को अवगत कराया तथा खेती में नवीन तकनीको के समावेश से कम लागत में अधिक उत्पादन लेने की सलाह दी। उन्होंने ने किसानों को खेती में मृदा परीक्षण आधारित उर्वरक उपयोग के विभिन्न फ़ायदों से अवगत कराते हुए। मिट्टी का नमूना लेने की विधि का खेत मे प्रदर्शन करके दिखाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here