एक साथ जली 6 चिताएं 5 बच्चों के अंतिम संस्कार करते समय कांपने लगे लोगों के हाथ

0
472

रामगंजमंडी उपखण्ड के चेचट थाना क्षेत्र के कालियाखेड़ी गांव में हुई ह्रदयविदारक घटना में एक ही परिवार के 6 लोगों की मौत से हर कोई सहमा हुआ था। जिसने भी घटना और मौतों के बारे में सुना आवाक रह गया। इसके बाद जब बच्चों के अंतिम संस्कार की बारी आई तो घाट में मौजूद हर शख्स की आंखें नम हो गई। इस इस दौरान बेहद गमगीन माहौल हो गया और हर आंख नम थी। एक साथ जलती 6चिताएं देखकर पूरे गांव में मातम छा गया और घरों में चूल्हे तक नहीं चले। बता दे  गांव के शिवलाल की पत्नी  45 वर्षीय बादाम बाई ने अपने 5 पुत्रियों के साथ कुए कूद कर आत्म हत्या कर ली। 

घटना में 14 साल की सावित्री, 8 साल की अंजलि, 6 साल की काजल, 4 साल की गुंजन और 1 साल की मासूम अर्चना की डूबने से मौत हो गई। परिवार में 14 वर्षीय गायत्री और 7 वर्षीय पूनम जिंदा बचे हैं। जिस समय मां, बेटियों को लेकर कुएं में कूदी, गायत्री और पूनम घर से बाहर थी। इसलिए उनकी जान बच गई।

बादाम बाई के पति शिवलाल ने बताया कि शनिवार दोपहर 12 बजे वह घर से बाहर था। शाम तक नहीं लौटा था। रात को पत्नी ने आत्महत्या जैसा कदम उठाया। रामगंज मंडी डिप्टी एसपी प्रवीण नायक ने कहा कि इस मामले की जांच की जा रही है। प्रारंभिक जांच में पति-पत्नी के बीच झगड़े की जानकारी सामने आई है। कारणों का पता लगाया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here