शाहिद मंसूरी मौत के मामले में तेज बारिश के बीच मुस्लिम समुदाय का प्रदर्शन, CBI जांच की रखी मांग

0
890

सांगोद
सांगोद में उजाड़ नदी किनारे जुआ खेलते समय पुलिस की दबिश से बचकर नदी में कूदे युवक की मौत के मामले में ढाई माह बाद भी दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई नहीं होने के विरोध में मंगलवार को एक बार फिर मुस्लिम समुदाय सड़कों पर उतरा। सैकड़ों की तादाद में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने बारिश के बीच विरोध जुलूस निकालकर एसडीएम कार्यालय पर प्रदर्शन किया।

इस दौरान युवकों ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और मामले में जल्द कार्रवाई नहीं होने पर उग्र प्रदर्शन की चेतावनी भी दी। इससे पूर्व प्रदर्शन को लेकर मुस्लिम समुदाय के लोगों ने सुबह से अपनी दुकानें बंद रखी। प्रात: दस बजे सभी लोग कोटा रोड स्थित ईदगाह मैदान पहुंचे। बारिश के बावजूद जुलूस में बड़ी तादाद में लोग शामिल हुए और हाथों में काले छाते थामकर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी कर रोष जताया। जुलूस कोटा रोड, गांधी चौराहा, गायत्री चौराहा होते हुए एसडीएम कार्यालय पहुंचा।

इस दौरान मार्ग एवं कार्यालय के बाहर पुलिस का तगड़ा बंदोबस्त रहा। पुलिस उपअधीक्षक रामेश्वर परिहार समेत कई पुलिस अधिकारी मौके पर तैनात रहे। एसडीएम कार्यालय के सामने आयोजित सभा में वक्ताओं ने पुलिस पर जमकर भड़ास निकाली। यहां मिर्जा शकील अहमद, अफसार प्रधान, असरार अहमद, अजहर खान, अतहर मिर्जा आदि ने कार्रवाई नहीं होने पर रोष जताया। उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिसकर्मियों पर हत्या का मामला दर्ज होने के बाद भी पुलिस अपने कर्मचारियों को बचाने में लगी है लेकिन पुलिस के इस रवैये को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

सभा के बाद पदाधिकारियों ने मृतक के परिजनों की मौजूगी में मामले की सीबीआई से जांच करवाने व परिवार को उचित मुवावजा देने की मांग करते हुए मुख्यमंत्री के नाम उपखण्ड अधिकारी अंजना सहरावत को ज्ञापन दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here